Virat keeps his promise to childhood coach by a ton

News in Hindi: नई दिल्ली। ये वाकई दिलचस्प पहलू ही है कि इस समय टीम इंडिया में एक ही ऐसा खिलाड़ी मौजूद है, जिसने विदेश में टेस्ट शतक जड़ा है, यानी विराट कोहली। जाहिर तौर पर उनसे दक्षिण अफ्रीका में भी उम्मीदें बहुत ज्यादा हैं, जब बुधवार को विराट कोहली पिच पर उतरे तो भारत सस्ते में दो विकेट गंवा चुका था, मामला नाजुक ही लग रहा था, लेकिन उसके बाद इस खिलाड़ी ने ऐसा खेल दिखाया कि दक्षिण अफ्रीकी गेंदबाजों की सारी उम्मीदों और रणनीति पर पानी फिर गया। दरअसल, कोहली ने अपने बचपन के कोच और मेंटर राजकुमार शर्मा से एक वादा किया था और वो वादा विराट ने इस अंदाज में पूरा किया कि स्मिथ एंड कंपनी की हालत खराब हो गई।

विराट के बचपन के कोच राजकुमार शर्मा के मुताबिक विराट ने उनसे वादा किया था कि पिचें चाहें जितनी खतरनाक हों और गेंदबाज जितने भी खौफनाक, वो जोहानिसबर्ग में शतक मारकर ही दम लेंगे और इसका उन्होंने वादा भी किया था। शर्मा ने कहा, ‘यह शानदार पारी थी। उसने ऑस्ट्रेलिया और दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ शतक लगाए हैं और मैं अपनी खुशी शब्दों में बयां नहीं कर सकता। उसने मंगलवार को मैच की पूर्व संध्या पर मुझसे वादा किया था कि वह पहले टेस्ट मैच में शतक लगाएगा। मुझे खुशी है कि विराट ने अपना वादा पूरा किया।’ कोच ने कोहली की पारी के दौरान डेल स्टेन पर लगाए गए पुल शॉट को पूरी पारी का अपना पसंदीदा शॉट करार दिया। उन्होंने कहा, ‘दिन का खेल समाप्त होने के बाद विराट अमूमन दस मिनट के अंदर मुझे फोन करता है। वह कैसा भी खेले यह उसकी आदत है। मुझे पूरा विश्वास है कि वह कहेगा, सर आपको पुल शॉट कैसा लगा। उस शॉट के दौरान उसके सिर की स्थिति, शरीर का संतुलन और उसे लगाने का तरीका सब शानदार थे।’

Source- Cricket News in Hindi

Related-    जोहानिसबर्ग टेस्ट के पहले दिन की रिपोर्ट

 

Advertisements