Girl denies to get marry with 10th fail student

girl

लखनऊ। कानपुर में एक स्नातक लड़की ने हाईस्कूल फेल लड़के से शादी करने से इन्कार करके साहसिक कदम उठाया। मामला प्रेम विवाह का था लेकिन लड़की ने सच सामने आने के बाद प्रेम को भी त्याग दिया। बात जिंदगी भर साथ निभाने के फैसले की थी तो स्नातक शिक्षित ने संकोच का घूंघट हटाने में देर नहीं की। घरवालों से साफ कह दिया कि हाईस्कूल फेल लड़के से हरगिज शादी नहीं करूंगी। यह सुनते ही झूठ बोलकर शादी करने का अरमान पाले लड़का व उसका परिवार हैरान हो गया। पुलिस चौकी में हुई पंचायत में भी लड़की अपने फैसले से टस से मस नहीं हुई। ऐसे में दो दिन बाद होने वाली शादी वाले दोनों घरों की तैयारियों पर पूर्ण विराम लग गया।

साहसिक फैसला करने वाली लड़की अनुराधा नौबस्ता क्षेत्र के वसंत विहार निवासी गोविंद नारायण की पुत्री है। वह स्नातक शिक्षित है। उसकी एक वर्ष पहले आवास विकास हंसपुरम निवासी महिपाल से दोस्ती हुई थी। महिपाल ने उसे परास्नातक तक शिक्षित होने व एक निजी कंपनी में अच्छे पद पर कार्यरत होना बताया था। धीरे-धीरे यह दोस्ती प्यार तक परवान चढ़ गई। दोनों परिवारों ने एक दूसरे को विवाह के बंधने में बांधने का फैसला कर दिया और सगाई कर दी। दोनों घरों में शादी की तैयारियां चल रही थीं। विवाह तीन दिसंबर को था। रविवार को अनुराधा को कहीं से पता चला कि महिपाल हाईस्कूल फेल है तो उसके सारे सपने बिखर गए। लड़के का झूठ बोलना उसे सहन नहीं हुआ। उसने आनन फानन में महिपाल के परिवारवालों को बुलाया और शादी से इन्कार कर दिया। यह सुनते ही लड़के वालों के पैर के नीचे से जमीन खिसक गई। महिपाल के परिवारवालों के साथ ही युवती के घरवाले भी इज्जत की दुहाई देते हुए अनुराधा को समझाने में जुट गये पर वह फैसले से हटी नहीं।

इस पर दोनों परिवार में जमकर कहासुनी हुई। मामला हंसपुरम चौकी में पहुंचा तो भी अनुराधा शादी न करने के फैसले पर अडिग रही और रिश्ता तोड़ दिया। वहीं, महिपाल का आरोप है कि युवती ने उससे तीन हजार रुपये खरीदारी के लिए मांगे थे। नहीं देने पर रिश्ता तोड़ दिया। शिक्षा के मामले पर लड़के का कहना था कि हाईस्कूल फेल होने की बात उसने लड़की को बताई थी। अपने बारे में उसने कोई गलत जानकारी नहीं दी थी।

Source- News in Hindi

Advertisements