Narendra Modi: free to apply for American visa: US

Modi free to apply for American visa: US

Narendra Modi Latest News: “We said he (Modi) is free to apply for a visa and we’ll make a decision based on the process that we have in place here,” State Department deputy spokesperson Marie Harf told reporters at her daily news conference on Friday.

In 2005, the State Department had revoked a visa that Modi had for travelling to US in the wake of the 2002 riots in Gujarat.

United States has repeatedly said that there is no change in its long-standing visa policy relating to Modi but he is free to apply for a visa and await a review like any other applicant.

When asked about comments made by Congress vice-president Rahul Gandhi in a recent interview on 1984 riots, Harf said, “I haven’t seen those comments.”

 

Get more News about Narendra modi visit here- http://www.jagran.com/topics/narendra-modi

 

source- post.jagran

Advertisements

Plane tyre bursts; flight ops hit at Jaipur airport

News in Hindi: जयपुर। गुवाहाटी से दिल्ली जा रही एअर इंडिया के विमान का पिछला टायर रविवार रात सांगानेर एयरपोर्ट पर लैंडिंग के दौरान फट गया। हालांकि चालक दल ने सूझबूझ से विमान को उतार लिया। राहत की बात ये है कि विमान में सवार सभी 173 यात्री सुरक्षित हैं।

नई दिल्ली में घने कोहरे के कारण एअर इंडिया के इस विमान को लैंडिंग के लिए जयपुर डायवर्ट किया गया था। सभी यात्रियों को देर रात एसी बसों से दिल्ली के लिए रवाना कर दिया गया। विमानन क्षेत्र से जुड़े अधिकारियों की मानें तो विमान के अगले पहिए का टायर अगर फटता तो काफी परेशानी हो सकती थी। लैंडिंग के वक्त अगले पहिए ही विमान का संतुलन और दिशा तय करते हैं।

 

 

 

 

Source-  Hindi News

Related-     एयर इंडिया का स्टाफ ही कर रहा है सोने की तस्करी, नजर रखने का निर्देश

Enhanced by Zemanta

Another IAS suspended by UP Govt

News in Hindi : लखनऊ। आइएएस अधिकारी दुर्गा शक्ति के निलंबन के बाद उत्तर प्रदेश सरकार एक बार फिर एक आइएएस अधिकारी के निलंबन को लेकर सुर्खियों में है। इस बार मामला है सरकार में खेल निदेशक के तौर पर कार्यरत शैलेश कुमार सिंह का, जिन्हें सैफई में एक स्विमिंग पूल बनने में हो रही देरी के कारण निलंबित कर दिया गया है। मालूम हो कि सिंह पूर्व मुख्यमंत्री मायावती के करीबी माने जाते हैं।

अगले महीने सेवानिवृत्त होने वाले शैलेश सिंह को निलंबन की जानकारी तब मिली जब वह सैफई के दौरे पर थे। सिंह सैफई में लंदन ओलंपिक में भारत के छह पदक विजेताओं के सम्मान समारोह में शामिल होने के लिए वहां जा रहे थे। सिंह के निलंबन का कारण सैफई खेल प्रांगण में एक विश्वस्तरीय स्विमिंग पुल के निर्माण में कथित देरी को बताया गया है। मुख्यमंत्री अखिलेश यादव चाहते थे कि स्विमिंग पुल का उद्घाटन सैफई महोत्सव शुरू होने से पहले कराना चाहते थे, लेकिन ऐसा नहीं हो सका। सपा द्वारा हर वर्ष आयोजित होने वाला सैफई महोत्सव बृहस्पतिवार से शुरू हो गया।

सरकारी विज्ञप्ति में कहा गया है कि आइएएस अधिकारी शैलेश सिंह को प्रथम दृष्टया अनियमितताओं और घोर लापरवाही का दोषी पाया गया, जिससे सरकारी योजनाओं में देरी हुई और इसलिए उन्हें राजकीय सेवा नियम के अनुसार तत्काल प्रभाव से निलंबित कर दिया गया है।

सरकार ने सैफई खेल प्रांगण में स्विमिंग पूल के निर्माण के लिए 103.21 करोड़ रुपये मंजूर किए गए थे। जिसमें प्रैक्टिस के लिए एक पूल, एक मेन पूल, डाइविंग प्रतियोगिताओं के लिए एक और पूल शामिल थे। इसके साथ ही वहां एक जिम, एक वीआईपी गैलरी, एक प्रशासनिक भवन और खिलाड़ियों के लिए आवास निर्माण भी शामिल था।

Source-  Hindi News

Related- 

पढ़ें : खनन माफियाओं से लोहा लेती रही हैं दुर्गा

पढ़ें : निलंबित आइएएस दुर्गा शक्ति बहाल हुई

 

 

They don’t wants to give birth of Rakhi

News in Hindi: नई दिल्ली, जागरण संवाददाता। अरविंद केजरीवाल के मंत्रिमंडल में शामिल होने जा रही मंगोलपुरी की विधायक राखी बिड़ला के माता-पिता नहीं चाहते थे कि वह इस दुनिया में आए। राखी जब अपनी मां की गर्भ में थीं तो मां ने चिकित्सक की सलाह पर गर्भपात कराने की दवा भी ली थी, लेकिन दवा अपना असर नहीं दिखा सकी। यह खुलासा खुद राखी के पिता भूपेंद्र सिंह बिड़ला ने किया है। उन्होंने बताया कि पहले से तीन संतान होने के चलते वह चौथी संतान नहीं चाहते थे।

घर की खराब माली हालत इसकी वजह थी। सबसे बड़ी बेटी सोनू, बेटे विरेंद्र, विक्रम के बाद राखी सबसे छोटी संतान है। लेकिन दवा ने जब असर नहीं किया तो वह दोबारा अपनी पत्‍‌नी को चिकित्सक के पास ले गए। चिकित्सक ने जांच करने के बाद जब यह कहा कि अब तो ऑपरेशन ही एक रास्ता है तो उन्होंने व उनकी पत्‍‌नी ने गर्भपात का फैसला टाल दिया। उन्होंने सोचा कि दवा लेने के बाद भी जब गर्भ में पल रहे बच्चे को दुनिया में आने से रोका नहीं जा सका तो अब उसे दुनिया में आना ही चाहिए।

भूपेंद्र कहते हैं कि राखी के जन्म के बाद उन्होंने उसके प्रति अपने प्यार में कोई कमी नहीं आने दी। उसके पालन -पोषण से लेकर शिक्षा-दीक्षा में कोई कसर बाकी नहीं रखी। कर्ज लेकर राखी की शिक्षा पूरी करवायी और आज राखी ने उनके परिवार का नाम रोशन कर दिया। दलित परिवार में पैदा हुई राखी का मूल गोत्र बिड़लान है। वह अपनी स्कूल की शिक्षक की गलती के कारण बिड़लान से बिड़ला हो गईं। दरअसल स्कूल के शिक्षक ने उनकी दसवीं कक्षा के प्रमाण पत्र में बिड़लान की जगह बिड़ला लिख दिया था। उसके बाद उनके नाम के आगे बिड़ला जुड़ गया।

Source-  Hindi News

Related- 

भाजपा को डर मोदी की गाड़ी पिंक्चर कर सकती है आप

कांग्रेस से कोई गठजोड़ या तालमेल नहीं: आप

Aam adami will rule delhi, declared soon

News in Hindi: नई दिल्ली। दिल्ली में सरकार बनाने को लेकर चल रही ऊहापोह की स्थिति सोमवार को समाप्त हो गई और आम आदमी पार्टी ने कांग्रेस के सहयोग से सरकार बनाने का फैसला कर लिया। उधर, दिल्ली की कार्यवाहक मुख्यमंत्री व कांग्रेस नेता शीला दीक्षित ने केजरीवाल को बधाई देते हुए कहा कि जनता से जो वादे किए गए हैं वह पूरा हो पाना असंभव है। अगर उन्हें विश्वास है तो वो करें, कांग्रेस उन्हें अपना पूरा सहयोग देगी।

‘आप’ की जनता से रायशुमारी की कवायद पूरी करने के बाद पार्टी की अहम बैठक में लिए गए फैसले की जानकारी देते हुए अरविंद केजरीवाल ने कहा कि लोगों ने हमें सरकार बनाने के हक में फैसला दिया है, इसलिए हम सरकार बनाएंगे। इसके साथ ही यह संशय भी साफ हो गया कि दल्ली की कुर्सी पर केजरीवाल ही बैठेंगे। इस बाबत वह आज उपराज्यपाल नजीब जंग से मुलाकात कर सरकार बनाने का दावा पेश करेंगे। इस बीच, सूत्रों से पता चला है कि ‘आप’ की सरकार 26 दिसंबर को जंतर-मंतर पर शपथ लेना चाहती है। वहीं, पार्टी ने अपने विधायकों को प्रशिक्षण देने का काम शुरू कर दिया है, जो शाम छह बजे तक चलेगा।

गौरतलब है कि दिल्ली विधानसभा चुनाव में किसी भी दल को पूर्ण बहुमत नहीं मिला था और भाजपा अपनी सहयोगी अकाली दल के साथ 32 सीटें जीतकर सबसे बड़ी पार्टी के रूप में उभरी थी। उपराज्यपाल ने सबसे पहले भाजपा को सरकार बनाने का न्यौता दिया लेकिन उनके इन्कार के बाद 28 सीटें जीतकर दूसरे नंबर पर रही आम आदमी पार्टी को बुलाया गया। इससे पहले ही आठ सीटें जीतने वाली कांग्रेस ने आप को सरकार बनाने के लिए समर्थन बनाने की चिट्ठी उपराज्यपाल को भेज दी। इस प्रकार बहुमत का जादुई आंकड़ा पूरा हो गया। लेकिन ‘आप’ ने कांग्रेस से समर्थन लेकर सरकार बनाने के लिए जनता की राय जानने का फैसला किया और एक सप्ताह में मिले एसएमएस, इंटरनेट पर वोटिंग और 280 सभाओं में आए फैसले के बाद आज ‘आप’ ने सरकार बनाने का फैसला किया।

Source-  Hindi News

 

 

Businessman molests beauty queen thrice in five-star

News in Hindi: मुंबई। मिस दिल्ली का खिताब पाने वाली एक मॉडल ने हैदराबाद के एक बिजनेसमैन पर छेड़छाड़ करने का आरोप का आरोप लगाया है। मॉडल ने इस संबंध में अंधेरी के डीएन पुलिस स्टेशन में मामला दर्ज कराया है। मॉडल दो हिंदी फिल्मों में भी काम कर चुकी है। 27 वर्षीय मॉडल ने आरोप लगाया है कि हैदराबाद के बिजनेसमैन रूषी अग्रवाल ने तीन बार उसके साथ एक फाइव स्टार होटल में छेड़छाड़ करने की कोशिश की।

पुलिस के मुताबिक मॉडल ने अपनी शिकायत में कहा है कि वह रूषी से हैदराबाद में एक फिल्म की शूटिंग के दौरान मिली थी। इसके बाद दोनों ने एक दूसरे के नंबर भी लिए और दोनों में बातचीत का भी दौर शुरू हो गया था। पिछले सप्ताह जब वह मुंबई आया तो उसने मॉडल को जुहू स्थित होटल में मुलाकात के लिए बुलाया था।

होटल पहुंचने पर रूषी ने उसके साथ बदतमीजी की जिसका उसने विरोध भी किया। पुलिस को की गई गई शिकायत के मुताबिक मॉडल ने बिजनेसमैन को ऐसा न करने के लिए चेतावनी भी दी थी। बावजूद इसके आरोप है कि उसने दो दिन में तीन बार मॉडल का यौन शोषण करने की कोशिश की। मॉडल ने आरोप लगाया है कि एक बार रूषी उसको पकड़कर बैड पर ले गया। लेकिन उसने खुद को किसी तरह से बचा लिया और होटल से निकल आई।

पुलिस को मिली शिकायत के बाद इस मामले को जुहू पुलिस स्टेशन के हवाले कर दिया गया है। पुलिस के मुताबिक पीडि़ता से उनको रूषी का मोबाइल नंबर मिला है जिसके आधार पर वह अभी इस मामले की जांच करेगी। (मिड डे)

Source-  Hindi News

Related-

छेड़खानी से तंग छात्रा ने क्लास में जहर खाकर दी जान

छात्रा से अश्लील हरकते करने के आरोप में गुरु जी गिरफ्तार

आप के विधायक पर छेड़खानी का केस दर्ज

BJP says it won’t form government in Delhi

News in Hindi: नई दिल्ली, जागरण संवाददाता। विधानसभा के चुनाव परिणाम आने के चार दिन बाद उपराज्यपाल नजीब जंग से मिले भाजपा विधायक दल के नेता डॉ. हर्षवर्धन ने उन्हें पार्टी के सरकार न बनाने के निर्णय से अवगत करा दिया। उन्होंने कहा, भाजपा के पास सरकार बनाने के लिए 36 विधायकों का आवश्यक संख्या बल नहीं है, इसलिए वह सरकार नहीं बना सकते। सरकार बनाने के लिए उन्होंने किसी प्रकार की जोड़तोड़ करने से साफ इन्कार कर दिया। उनका पक्ष जानने के बाद उपराज्यपाल नजीब जंग ने 28 विधायकों वाली पार्टी आप के नेता अरविंद केजरीवाल को वार्ता के लिए बुलाया है। यह मुलाकात शनिवार को पूर्वाह्न साढ़े दस बजे होगी।

बृहस्पतिवार शाम उपराज्यपाल से मिलकर लौटे डॉ. हर्षवर्धन ने कहा, भाजपा राजनीति सत्ता के लिए नहीं बल्कि जनता की सेवा के लिए करती है। उन्होंने सरकार न बना पाने की असमर्थता व्यक्त करते हुए दिल्ली की जनता से क्षमा याचना की है। उधर, भाजपा के इन्कार करने के साथ ही आम आदमी पार्टी (आप) ने भी कहा है कि अब दिल्ली में दोबारा चुनाव होना तय है।

राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी के निर्देश पर उपराज्यपाल ने बुधवार रात डॉ. हर्षवर्धन को सरकार बनाने के सिलसिले में वार्ता के लिए बुलाया था। छत्तीसगढ़ में रमन सिंह सरकार के गठन के समारोह से लौटकर बृहस्पतिवार शाम भाजपा नेता ने उप राज्यपाल से मुलाकात की। यह मुलाकात करीब 45 मिनट चली। पत्रकारों से बातचीत में उन्होंने कहा कि यदि किसी अन्य दल के पास बहुमत है तो वह सरकार बनाए, भाजपा विपक्ष में बैठने को तैयार है। लेकिन ऐसा नहीं होता है और फिर से दिल्ली में चुनाव होते हैं तो इस स्थिति के लिए भाजपा जिम्मेदार नहीं है। उन्होंने कहा कि भाजपा चुनाव में फिर से प्रयास करेगी और बहुमत मिलने के बाद ही सत्ता पर काबिज होगी। सत्ता हथियाने के लिए भाजपा किसी तरह की जोड़-तोड़ की राजनीति नहीं करेगी। हर्षवर्धन ने एक पत्र भी उपराज्यपाल को सौंपा, जिसमें सरकार बनाने में असमर्थता जताई गई है।

हर्षवर्धन ने लिखा जंग को खत

आदरणीय जंग साहब,

दिल्ली में सरकार बनाने की संभावनाओं पर विचार-विमर्श हेतु आपका पत्र प्राप्त हुआ, धन्यवाद। दिल्ली की जनता कमरतोड़ महंगाई, भ्रष्टाचार तथा अन्य ज्वलंत समस्याओं से परेशान है। हताशा और निराशा के बीच ही राजधानी की जनता को विधानसभा के चुनावों का सामना करना पड़ा। मैं पिछले 20 वर्षो से विधायक हूं। हर रोज जनता के दुख दर्द से रूबरू होता हूं। पेशे से एक चिकित्सक होने के कारण मुझे बीमारी और उसके कारणों का मरीज को देखते ही पता चल जाता है। दिल्ली की दो करोड़ जनता की परेशानियों का मूल कारण कांग्रेस का कुशासन और सरकार की दिशाहीन नीतियां रही हैं। दिल्ली की जनता की समस्याओं को लेकर समय-समय पर भाजपा ने सड़कों पर उतर कर और विधानसभा के अंदर आवाज उठाई है। कांग्रेस सरकार ने जनता की समस्याओं को दूर करने के स्थान पर नागरिकों की आवाज को अनसुना किया। परिणाम है कि दिल्ली में कांग्रेस पार्टी को सिर्फ आठ ही सीटें प्राप्त हुई। सरकार की मुखिया तक अपना चुनाव हार गई। विधानसभा चुनावों के बाद भाजपा स्पष्ट जनादेश प्राप्त करके दिल्ली की जनता के चेहरे पर मुस्कान बिखेरना चाहती थी। ऐसा नहीं हुआ, क्योंकि बहुमत प्राप्त होने में मात्र चार सीटें कम रह गई।

Source-  Hindi News

Related-  सरकार बनाने के लिए जेडीयू का आप को खुला समर्थन